Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

तकदीर वाले होते हैं वो लोग, जिनके हाथों में होते हैं ऐसे निशान

  सतना। हिंदू धर्म में हाथ की रेखाओं में हमारे जीवन में आगे आने वाले संकेत मिलते हैं. गर्भावस्था के दौरान ही शिशु के हाथ में लकीरें बन जाती...

 


सतना।
हिंदू धर्म में हाथ की रेखाओं में हमारे जीवन में आगे आने वाले संकेत मिलते हैं. गर्भावस्था के दौरान ही शिशु के हाथ में लकीरें बन जाती है, जिनसे जन्म से लेकर मृत्यु का ब्योरा रेखाओं के रूप में सजा रहता है. इसे हम हस्तरेखा के रूप में जानते हैं. ऐसा कहा जाता है कि 16-18 वर्ष की आयु तक पहुंचते-पहुंचते हाथों की रेखाओं में लगातार परिवर्तन होता रहता है.

 Palmistry हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक हाथ में बनने वाली रेखाओं का आकलन करके हमारे बारे में काफी कुछ जाना जाता है. कहा जाता है कि हाथ में बनने वाले कुछ निशान ऐसे भी होते हैं जो व्यक्ति को भाग्यशाली बनाते हैं. चलिए आज आपको बताते हैं कि इन निशानों के अनुसार व्यक्ति के भाग्य में क्या लिखा होता है.

 ये भी पढ़े...

यदि आप सुबह शीशा देखते हों तो हो जाएं सावधान, यह बताया वास्तुशास्त्र में.....

 



यदि किसी व्यक्ति के हाथ की भाग्य रेखा चंद्रपर्वत से शुरू होती है, तो ऐसे व्यक्ति अपने जीवन में तरक्की करते हैं, और हर कार्य में सफल होते हैं, साथ ही मान-प्रतिष्ठा भी प्राप्त होती है. जिन लोगों के हाथ की रेखाएं एम की आकृति बनाती हैं. ऐसे लोग दिमाग के तेज होते हैं ऐसे लोगों में आत्मविश्वास की कोई कभी नहीं होती है. इन लोगों में नेतृत्व करने की क्षमता कमाल की होती है. इसलिए ये लोग अपने जीवन में बहुत तरक्की करते हैं.ये लोग अपने जीवन की हर बाधा को पार कर लेते हैं.

बहुत कम लोगों के हाथों में एक्स चिह्म बनता है, यह निशान मस्तिष्क रेखा और हदय रेखा के बीच में बनता है. ऐसे लोग बहुत भाग्यशाली होते हैं. रिसर्च के मुताबिक हथेली में एक्स का निशान बनने पर व्यक्ति को अपने जीवन में सफलता के साथ प्रसिद्धि भी प्राप्त होती हैं. कहा जाता है कि ऐसे लोग पैसे के मामले में बहुत भाग्यशाली होते हैं.

इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि अगर दोनों हाथों को मिलाने से हाथों में आधे चांद Moon की आकार बनता बहै तो किसी व्यक्ति के हाथों में गुरु पर्वत से शनि पर्वत के अंत तक जाते हुए सीधी होती है और कहीं से कटी हुई न होक आधे चांद का निर्माण करती है. कहते हैं कि ऐसे लोग आकर्षक होने से साथ बुद्धि के तेज भी होते हैं. ऐसे लोग अपनी बुद्धि के बल से ही अपनी जीवन में तरक्की पाते हैं।

No comments