Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

भोपाल में भाजपा प्रत्याशी आलोक शर्मा ने भरा नामांकन

   भोपाल । भोपाल संसदीय क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार आलोक शर्मा ने शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। नामांकन के दौरान पूर्व मुख्यमंत...

  

भोपाल । भोपाल संसदीय क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार आलोक शर्मा ने शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। नामांकन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मंत्री विश्वास सारंग और राज्यमंत्री कृष्णा गौर उनके साथ मौजूद रहे।नामांकन के लिए सुबह घर से निकलने से पहले उन्होंने अपने माता-पिता के चरण छूकर आशीर्वाद लिया। मां ने उनके माथे पर तिलक लगाया और चुनाव में जीत की शुभकामनाएं  दी। इसके बाद वह सोमवारा में स्थित कर्फ्यू वाली माता मंदिर में पहुंचे और सीएम मोहन यादव के साथ पूजा-अर्चना की। उनके समर्थन में यहां भवानी चौक पर चुनावी सभा हुई। पूर्व महापौर सुनील सूद भी यहां पहुंचे, जिन्होंने आज औपचारिक तौर पर भाजपा की सदस्यता ली। इस जनसभा को मुख्यमंत्री मोहन यादव और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबोधित किया। सभा के बाद रैली के रूप में आलोक शर्मा नामांकन भरने कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुए। रैली में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मंत्री विश्वास सारंग, पूर्व गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, राज्यमंत्री कृष्णा गौर, विधायक रामेश्वर शर्मा, विधायक विष्णु खत्री भी उनके साथ रहे। मुख्यमंत्री मोहन यादव अपने पूर्वनिर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नामांकन सभा के बाद सागर रवाना हो गए, जहां से आज भाजपा प्रत्याशी डा. लता वानखेड़े अपना नामांकन दाखिल करने जा रही हैं।  आलोक शर्मा की नामांकन सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री डा. मोहन यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के रूप में हमारा परिवार रोज बढ़ता जा रहा है। कांग्रेसियों को रात-दिन झटके लगते हैं, लेकिन फिर भी वे मानते नहीं। भोपाल में कांग्रेस का अता-पता नहीं है। 25 साल से कांग्रेस भोपाल में नहीं जीत पाई। हमारे पास कार्यकर्ताओं का विश्वास है, यहीं पर कांग्रेस फेल हो जाती है। 2014 में में जो कल्पना नहीं की सकती थी, वो काम मोदी जी ने पूर्ण बहुमत की सरकार चलाकर दिखाया। इस मौके पर सीएम मोहन यादव में प्रदेश की सभी 29 सीटों पर भाजपा की जीत का भरोसा जताया और बोले कि अबकी बार, छिंदवाड़ा पार। भोपाल की सीट पर भी इस बार जीत का रिकार्ड बनेगा। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में आलोक शर्मा को बर्रूकट भोपाली कहकर संघर्ष के दिनों का साथी बताया। शिवराज ने कहा हम मिलकर कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन करते थे। आलोक शर्मा पुतला जलाने के लिए थे। 500 साल बाद अयोध्या में राम लला का सूर्य अभिषेक हुआ। सबको खुशी हुई उत्साह मनाया गया। मगर कांग्रेस ने विरोध किया- विनाश काले विपरीत बुद्धि। कांग्रेस ने सही किया या गलत, आपकी आवाज भोपाल वालों राहुल गांधी तक पहुंच जाए। मोदी जी के नेतृत्व में भारत विश्वगुरु बनेगा। कांग्रेस की बड़ी नेत्री सोनिया गांधी हैं। वह रायबरेली से चुनाव लड़ती थीं। इंदिरा जी भी यहीं से चुनाव लड़ती थीं। राहुल गांधी जी भी रणछोड़ दास बन गए। हमारे विधायकों ने कभी सीट नही बदली। मैंने भी कभी सीट नही बदली। मेरी सीट विदिशा है वही रहेगी। कांग्रेस का भला नहीं हो सकता उसका विसर्जन तय है। भोपाल में 12 अप्रैल से नामांकन पत्र खरीदने और जमा करने की शुरूआत हुई है, जो 19 अप्रैल तक चलेगी। 16 अप्रैल तक कांग्रेस उम्मीदवार अरुण श्रीवास्तव सहित 11 उम्मीदवार नामांकन जम कर चुके थे। कांग्रेस प्रत्याशी अरुण श्रीवास्तव ने मंगलवार को अपना नामांकन दाखिल किया था। नामांकन दाखिल करने के साथ सभी प्रत्याशियों ने अपनी संपत्ति का ब्योरा भी दिया है। वहीं तीन उम्मीदवारों तो चिल्लर से जमानत राशि जमा कराई है। रामनवमी होने के कारण 17 अप्रैल को नामांकन पत्र जमा नहीं हुए। अब 18 और 19 अप्रैल को ही नामांकन जमा हो सकेंगे। यानी, नामांकन जमा करने के लिए अब सिर्फ 2 दिन का वक्त है। 

No comments