Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

रुपये नहीं देने पर मां की हत्या, कुएं में फेंकी थी लाश

  राजनांदगांव। छत्‍तीसगढ़ के राजनांदगांव में कलयुगी बेटे की दिल दहला देने वाली करतूत सामने आई है। यहां 32 वर्षीय बेटे टुमन साहू ने अपनी मा...

 

राजनांदगांव। छत्‍तीसगढ़ के राजनांदगांव में कलयुगी बेटे की दिल दहला देने वाली करतूत सामने आई है। यहां 32 वर्षीय बेटे टुमन साहू ने अपनी मां कांति बाई (65 वर्ष) की हत्या कर लाश को घर के कुएं में फेंक दिया था। घटना बीते 23 अप्रैल की है। यह घटना घुमका थाना क्षेत्र के ग्राम बिजेतला की है। पुलिस ने बताया कि आरोपित टुमन और उसकी मां दोनों ही घर पर थे। तभी आरोपित बेटे टुमन ने बैगा गुनिया के लिए 30 हजार रुपए मांगे, जिस पर उसकी मां ने शराब पीकर पैसे खत्म कर देने की बात कहकर बेटे को डांटा तो गुस्से में आरोपित टुमन ने लोहे का हथौड़ा से अपनी मां के सिर और चेहरे पर जानलेवा हमला कर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपित बेटे ने मां के पहने हुए चांदी के करधन को निकाल लिया। लाश को छिपाने के लिए टुमन ने अपनी मां की लाश को घर में स्थित कुएं में फेंक दिया और खुद मोटर साइकिल सीजी 08 एडी 2649 लेकर फरार हो गया। इधर, गांव में कांति बाई की मौत की खबर के बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने कुएं से लाश बरामद किया और मामले की जांच शुरू की। जांच में पता चला की मृतिका का छोटा बेटा किसी को कुछ बताए गायब है। इसके बाद पुलिस ने उसकी तलाश की, उसका लोकेशन दुर्ग जिले के उतई क्षेत्र में मिला। तब पुलिस ने टुमन को उतई से हिरासत में लिया। जिसके बाद हत्या के मामले का राजफाश हुआ।  पुलिस की पूछताछ में आरोपित टुमन ने बताया कि उसे बैगा गुनिया के इलाज के लिए 36,000 रुपये की आवश्यकता थी। उसने घर में अपनी मां से पैसों की मांग किया, तो मां कांति बाई ने शराब पीकर उड़ा देते हो कहकर नहीं दूंगी कहते हुए डांटने लगी। जिस बात से टुमन आक्रोशित होकर अपनी मां को घर के परछी में रखे लोहे के हथौड़े से लगातार सिर, मांथे व चेहरे पर वार कर हत्या कर दिया और पहने चांदी के करधन को निकालकर अपने पास रख लिया। लाश को कुंए में फेंक कर चांदी के करधन को लेकर मोटर साइकिल से धमधा क्षेत्र के गांव पेण्ड्रावन में ज्वेलर्स के पास उस करधन को बेच दिया। यहां से पैसे लेकर टुमन बालोद तरफ भगने की फिराक में था । 

No comments