Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

सनातन धर्म में सेन समाज का महत्वपूर्ण स्थान है: बृजमोहन अग्रवाल

    संगठित समाज को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता: बृजमोहन अग्रवाल  रायपुर  । किसी के दुख और सुख में साथ खड़े रहना एक सभ्य समाज की पहचान है...

  

संगठित समाज को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता: बृजमोहन अग्रवाल

 रायपुर  । किसी के दुख और सुख में साथ खड़े रहना एक सभ्य समाज की पहचान है। सेन समाज उन्ही में से एक है। सनातन धर्म में सेन समाज का एक महत्वपूर्ण स्थान है। ये बात संस्कृति एवं धर्मस्व मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने मंगलवार को दीन दयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में आयोजित सेन समाज के संवाद कार्यक्रम में कही। श्री अग्रवाल कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए और संत शिरोमणि सेन महाराज को माल्यार्पण कर याद किया।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि सनातन धर्म में सेन समाज के बगैर कुछ भी संभव नहीं होता है। बच्चों के मुंडन से लेकर शादी तक में सेन समाज का महत्वपूर्ण स्थान रहता है। दो परिवारों को एक साथ लाने उनको निमंत्रण देने में भी सेन समाज को ही भेजा जाता है। अंतिम संस्कार भी सेन समाज के बगैर पूरा नहीं हो सकता । इसलिए सेन समाज का महत्वपूर्ण स्थान है। श्री अग्रवाल ने समाज को संगठित होने के लिए कहा कि, जो समाज संगठित होता है उसे आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने लोगों से अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए कहा। साथ ही आह्वान किया कि लोग समाज की भलाई के लिए एक ट्रस्ट बनाकर उसमें सहयोग राशि जमा करें। जिसका उपयोग गरीब बच्चों की शिक्षा, गरीब बेटियों की शादी और गरीबों के इलाज में किया जा सके। ऐसा करने से सेन समाज संगठित होगा और सबका भला होगा। 
श्री अग्रवाल ने समाज से 22 जनवरी को पूरे देश में एक बार फिर से दीवाली मनाने को कहा। कार्यक्रम में वैशाली नगर विधायक श्री रिकेश सेन का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में लक्ष्मी नारायण, भूपेंद्र शंकर, बल्लू शंकर, प्रहलाद गंगाराम, लुका कौशिक, समेत देश भर से आए समाज के सैकड़ो लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम में समाज के वरिष्ठ श्री बालाराम सेन को भी सम्मानित किया गया।

No comments