Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

पिता ने किया दो मासूम बेटियों का मर्डर

 डोईवाला । देहरादून जिले के डोईवाला में एक युवक ने अपनी दो बच्चियों की घर में गला घोंटकर हत्या कर दी। बेटा नहीं होने पर पत्नी का टॉर्चर भी क...

 डोईवाला । देहरादून जिले के डोईवाला में एक युवक ने अपनी दो बच्चियों की घर में गला घोंटकर हत्या कर दी। बेटा नहीं होने पर पत्नी का टॉर्चर भी करता था। आरोप है कि दूसरी शादी में बाधा बनने पर उसने बेटियों को मौत के घाट उतार दिया। केशवपुरी बस्ती के जितेंद्र द्वारा बेरहमी से अपनी मासूम बेटियों की हत्या करने के मामले में घर की कलह ही मुख्य वजह मानी जा रही है। बच्चियों की नानी ने पुलिस को दी तहरीर में कई खुलासे किए हैं। डोईवाला कोतवाली प्रभारी राजेश शाह ने बताया कि केशवपुरी बस्ती में रहने वाला जितेंद्र साहनी ऊर्फ डोमा डोईवाला में कबाड़ का काम करता है। करीब डेढ़ महीने पहले उसकी पत्नी अपने दोनों बच्चों और उसे छोड़कर भाग गई थी। इसके बाद जितेंद्र दूसरी शादी करना चाहता था, लेकिन उसकी दो बच्चियां होने के कारण उसकी दूसरी शादी नहीं हो पा रही थी। आरोप है कि उसने साढ़े तीन साल की बेटी आंचल और डेढ़ साल की बेटी अनुषा की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद वह मौके से फरार हो गया। आरोपी की उम्र 22 साल बताई जा रही है। देर शाम को बच्चों की दादी घर पहुंची तो कोहराम मच गया। घटना के समय बच्चों की दादी कूड़ा बीनने गई हुई थी। वापस आने के बाद घटना का पता चल पाया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों बच्चियों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने दोनों बच्चियों को मृत घोषित कर दिया। शाह ने बताया कि आरोपी की आखिरी लोकेशन डोईवाला रेलवे स्टेशन के पास मिली है। टीमें गठित कर उसकी तलाश की जा रही है। दोनों बच्चों के शव को हिमालयन अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए हैं। शाह ने बताया कि बच्चों की नानी की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। घटना स्थल पर खून के निशान भी मिले हैं। आरोपी मूलरूप से बिहार के दरभंगा का रहने वाला है।  आरोपी जितेंद्र की उम्र 22 बताई जा रही है। जबकि उसकी सबसे बड़ी बेटी की उम्र साढ़े तीन साल है। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि उसकी कम उम्र में शादी हो गई। वहीं उसे छोड़कर जा चुकी पत्नी की उम्र भी कम बताई जा रही है। अंदेशा है कि दोनों की शादी तय आयु से कम में हुई है। ट्रेन से फरार होने की आशंका पुलिस आरोपी जितेंद्र की तलाश में जुटी है। देर रात कई टीमें बना दी गई। बताया गया कि वह ट्रेन पकड़कर आरोपी फरार हो गया है। इंस्पेक्टर राजेश शाह, एसएसआई राकेश शाह और दरोगा मुकेश कुमार की अगुवाई में पुलिस की कई टीमें काम कर रही हैं। पुलिस के मुताबिक, युवक मजदूरी या कबाड़ बीनने का काम करता था और नशे का भी आदी था। नशे में ही कई बार उसकी मारपीट भी होती रहती थी। केशवपुरी बस्ती के जितेंद्र द्वारा बेरहमी से अपनी मासूम बेटियों की हत्या करने के मामले में घर की कलह ही मुख्य वजह मानी जा रही है। बच्चियों की नानी ने पुलिस को दी तहरीर में कई खुलासे किए हैं। केशवपुरी निवासी आशु देवी ने अपने दामाद जितेंद्र के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। आशु देवी ने तहरीर में बताया कि उसकी बेटी रीना का विवाह पांच साल पहले जितेंद्र से हुआ था। साढ़े तीन साल की आंचल और डेढ़ साल की अनुषा उनकी दो बच्चियां थीं। आरोप है कि जितेंद्र अपनी पत्नी रीना को दो बेटियां होने और कोई पुत्र नहीं होने के कारण लगातार पिटाई करता था। बार-बार उसका उत्पीड़न करता था। कुछ महीने पहले दामाद जितेंद्र और उसकी मां दुर्गा देवी ने भी रीना को मारा था। दोनों के उत्पीड़न से तंग आकर रीना दो बच्चियों को छोड़कर एक रिश्तेदार के साथ चली गई। जितेंद्र बार-बार यही कहता था कि दोनों बच्चों को छोड़कर गई है। इस कारण इसकी शादी नहीं हो पा रही है। यह भी कहता था कि यदि वह इन बच्चों को नहीं ले गई या वापस नहीं आई तो वह बच्चों को भी नहीं छोड़ेगा। उन्होंने उसे समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माना और गुस्से में रहता था।

No comments