Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

रिटायर्ड शिक्षक को नागमणी बताकर बेचा पत्थर

  बिलासपुर । रिटायर्ड शिक्षक को चमकीला पत्थर दिखाकर जालसाजों ने नागमणी बताया। इसे बेचने का झांसा देकर जालसाज चार लाख स्र्पये ले गए। रिटायर्ड...

 

बिलासपुर । रिटायर्ड शिक्षक को चमकीला पत्थर दिखाकर जालसाजों ने नागमणी बताया। इसे बेचने का झांसा देकर जालसाज चार लाख स्र्पये ले गए। रिटायर्ड शिक्षक ने इसकी शिकायत गौरेला थाने में की। इस पर पुलिस ने एक आरोपित को उसके ठिकाने से गिरफ्तार किया है। आरोपित के कब्जे से तीन लाख 15 हजार स्र्पये जब्त किए गए हैं। वहीं, चार आरोपित फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है। गौरेला थाना अंतर्गत ग्राम कन्हारी में रहने वाले हरिप्रसाद कश्यप रिटायर्ड टीचर हैं। अक्टूबर 2022 में एक व्यक्ति उनके पास आया। उसने रिटायर्ड टीचर को गांव में मोबाइल टावर लगाने की बात कही। इसके लिए जमीन दिखाने के लिए कहा। टीचर ने उन्हें मना कर दिया। कुछ दिन बाद वही व्यक्ति वहां फिर से आया। उसने गांव में टावर लगाने की बात कहते हुए जमीन का हर महीने 11 हजार स्र्पये किराया देने की बात कही। इस पर टीचर राजी हो गए। उन्होंने अपने मकान के पास की जमीन को दिखाया। इसके कुछ दिन बाद कुछ लोग खुद को इंजीनियर बताते हुए जमीन का सर्वे करने नाटक करने लगे। इसी बीच वहां पर एक अन्य व्यक्ति अपने भाई को खोजते हुए आया। बातचीत के दौरान उसने बताया कि उसके पास नागमणी है। वह इसे तीस लाख स्र्पये में बेचने वाला है। इसे सुनकर खुद को इंजीनियर बताने वाला व्यक्ति उससे बात करने लगा। बातचीत के बाद उसने रिटायर्ड टीचर के घर नागमणी को लाने के लिए कहा। दिसंबर महीने में अनजान व्यक्ति एक चमकीला पत्थर लेकर आया। इसे देख इंजीनियर और उसके साथी ने फोटो लेकर किसी अन्य व्यक्ति को भेजा। इसके बाद रिटायर्ड टीचर से ही चार लाख स्र्पये दिलाकर एक बाक्स को छोड़ दिया। बाद में टीचर ने बाक्स खोलकर देखा तो वह खाली था। इधर खुद को इंजीनियर और पंडित बताने वालों ने भी मोबाइल बंद कर दिया था। रिटायर्ड टीचर की शिकायत पर पुलिस ने जांच शुरू की। इसमें पता चला कि एक आरोपित कोरिया जिले के सरभोक्का में रहने वाला संजय कुमार रवि है। पुलिस ने उसके ठिकाने पर दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया। रिटायर्ड टीचर ने उसकी पहचान एजेंट के रूप में की। पूछताछ में पता चला कि उसने अपने साथियों अखिलेश सूर्यवंशी(38) निवासी ग्राम कोटेदार जिला कोरिया, विजय सूर्यवंशी(27) निवासी कुडेली रोड पटना जिला कोरिया, विनोद कुमार सूर्यवंशी(30) निवासी बोडार जिला कोरिया और भोले कुमार भास्कर(20) निवासी कसरा कटहर जिला कोरिया के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने उनके ठिकाने पर दबिश दी तो वे भाग निकले। आरोपित संजय के कब्जे से तीन लाख स्र्पये जब्त किया गया है।

No comments