Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

डिस्को किंग बप्पी लहरी का निधन, 69 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

  बेटे बप्पा के अमेरिका से लौटने के बाद कल होगा अंतिम संस्कार मुंबई। बॉलीवुड के म्यूजिक डायरेक्टर बप्पी लहरी का मंगलवार रात 11 बजे 69 साल क...

 


बेटे बप्पा के अमेरिका से लौटने के बाद कल होगा अंतिम संस्कार
मुंबई। बॉलीवुड के म्यूजिक डायरेक्टर बप्पी लहरी का मंगलवार रात 11 बजे 69 साल की उम्र में निधन हो गया है। उन्होंने मुंबई के जुहू स्थित क्रिटी केयर हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि उन्हें तबीयत खराब होने के बाद मंगलवार को ही भर्ती किया गया था। बप्पी दा पिछले साल कोविड पॉजिटिव हो गए थे। इसके बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया था। म्यूजिक इंडस्ट्री में बप्पी लहरी को डिस्को किंग कहा जाता था। उनका असली नाम अलोकेश लाहिड़ी था। बप्पी लहरी म्यूजिक के साथ-साथ सोना पहनने के अंदाज को लेकर भी जाने जाते थे। बप्पी लहरी के परिवार वालों ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार कल किया जाएगा। उनके बेटे बप्पा अभी अमेरिका में हैं और वह कल दोपहर तक मुंबई पहुंचेंगे। इसके बाद उनका क्रिया कर्म किया जाएगा।
प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
पीएम मोदी बप्पी दा को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा- बप्पी लहरी जी का संगीत सभी दौर के लिए था, वो हर भावना को खूबसूरती से व्यक्त करता था। हर जनरेशन के लोग उनके काम से जुड़ाव महसूस करते थे। उनका खुशनुमा स्वभाव सभी को याद रहेगा। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना।
तीन साल की उम्र से ही तबला बजाना सीख लिया था
बॉलीवुड को रॉक और डिस्को से रू-ब-रू कराकर पूरे देश को अपनी धुनों पर थिरकाने वाले बप्पी लहरी 69 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह चुके हैं। बप्पी दा अपने अलग तरह के गाने और गोल्ड ज्वेलरी के लिए खास पहचान रखते थे। 27 नवंबर, 1952 को कोलकाता में जन्मे बप्पी का रुझान बचपन से म्यूजिक की ओर रहा। बचपन से बप्पी के खून में म्यूजिक दौड़ता था और तीन साल की उम्र से ही उन्होंने तबला बजाना सीख लिया था। बप्पी को डिस्को सॉन्ग का बादशाह कहा जाए तो गलत नहीं होगा। फिल्म इंडस्ट्री में सभी बेहतरीन म्यूजिक कम्पोजर बप्पी दा की प्रतिभा के कायल थे।
स्ट्रगल के दिनों में मिली थी एल्विस प्रेसली से प्रेरणा
बप्पी दा ने एक पुराने इंटरव्यू में कलाई, उंगलियों और गले में सोने की मोटी ज्वेलरी पहनने का कारण बताया था। बप्पी अमेरिकन रॉक स्टार एल्विस प्रेसली के बड़े प्रशंसक थे। एल्विस अपनी परफॉर्मेंस के दौरान सोने की चेन पहना करते थे। एल्विस को ही देखकर बप्पी दा ने प्रेरणा ली थी कि जब वो कामयाब हो जाएंगे तो अपनी एक अलग छवि बनाएंगे। कामयाब होकर बप्पी दा ने सोना पहना, जिससे उन्हें इंडिया का गोल्ड मैन तक कहा जाने लगा। इसी के साथ सिंगर ने बताया कि वो सोने को अपने लिए लकी मानते हैं।
-बप्पी लहरी के पास था कितना सोना- चांदी?
डिस्को डांसर सिंगर बप्पी दा ने साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में दावेदारी पेश की थी। नामांकन के दौरान सिंगर ने अपनी कुल संपत्ति और सोना-चांदी का ब्यौरा दिया था। इस दौरान उन्होंने बताया कि उनके पास कुल 752 ग्राम सोना और 4.62 किलो चांदी है। ये विवरण उन्होंने 6 साल पहले दिया था। बप्पी लहरी के पास 754 ग्राम सोना है और 4.62 किलो चांदी है। फिलहाल सोने का भाव 51 हजार रुपए है, जिसके अनुसार बप्पी दा के पास लगभग 40 लाख रुपए का सोना- चांदी मौजूद है। कुल संपत्ति की बात करें तो बप्पी दा 20 करोड़ रुपए की संपत्ति के

No comments