Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

जशपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्णः दोषी पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की गयी है : शैलेश नितिन त्रिवेदी

abernews रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जशपुर छात्रावास में रहने वाली छात्राओं के साथ हुयी...


abernews रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जशपुर छात्रावास में रहने वाली छात्राओं के साथ हुयी घटना बेहद दुखद है। इस मामले की जानकारी मिलते ही तत्काल कड़ी कार्रवाई की गई है। आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। विपक्ष इस मामले में असंदेनशील गैर जिम्मेदाराना राजनीति कर रहे हैं। इस मामले में 15 वर्षों तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह ने बेहद गैरजिम्मेदाराना बयान दिया है। 15 साल तक रमन सिंह में मुख्यमंत्रित्व राज में झलियामारी, कांकेर जिला आमामुड़ा, बालोद जिला, कोरिया जिलों में अनेक छात्रावासों में इस तरह की घटनाएं हुई। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने इस मामले में स्तरहीन राजनीति करते हुये बयान दिया है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह को बताना चाहिये कि झलियामारी, आमामुड़ा कांकेर जिला, बालोद जिला और कोरिया जिले में आदिवासी छात्रावास की लड़कियों के साथ रमन सिंह की सरकार में जब लगातार अनाचार की घटनाएं हुई, रमन सिंह ने उस समय कोई कार्यवाही क्यों नहीं की थी? भाजपा सरकार में रेपीस्टों को संरक्षण मिलता रहा है। डॉ. रमन सिंह के मुख्यमंत्री रहते उनके ओएसडी ओपी गुप्ता के ऊपर नाबालिग से रेप करने का आरोप लगा उस दौरान चार साल तक पीड़िता की एफआईआर तक दर्ज नहीं की गयी।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सरकार में कानून मजबूती से काम कर रहा है, पीड़ितों को न्याय दिलाने में अपराधियों को सजा दिलाना में प्राथमिकता है। न केवल इन मामलों में कार्यवाही नहीं की बल्कि रमन सिंह ने छात्रावास की अधीक्षिका को बेहतर कार्य के लिए पुरस्कृत और सम्मानित भी किया था। यही तो अंतर है भाजपा और कांग्रेस की सरकार में। यही तो अंतर है रमन सिंह और भूपेश बघेल की सरकार में। अनेक छात्राओं के साथ अनाचार और बलात्कार होता रहा। रमन सिंह ने उस छात्रावास की अधीक्षिका को अच्छे कामों के लिये पुरस्कृत किया था। बालोद जिले के कार्यक्रम में जो रमन सिंह मुख्यमंत्री रहते हुये इस तरीके की शर्मनाक घटनाएं जिनके कार्यकाल में हुयी उस अधीक्षिका को पुरस्कृत किया हैं। ऐसे रमन सिंह आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही करने वाली कांग्रेस सरकार और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने वाली कांग्रेस सरकार पर कैसे सवाल करते हैं? रमन सिंह को अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिए। रमन सिंह के 15 साल के कार्यकाल में तो ऐसी घटनाएं लगातार होती रही। 15 साल का कार्यकाल भरा रहा ऐसी घटनाओं में और आज रमन सिंह जी यदि इस विषय पर स्तरहीन राजनीति कर रहे हैं। जशपुर में जो दुर्भाग्यजनक घटना हुई। तत्काल कार्रवाई की गई आरोपियों की गिरफ्तारी भी हो गई है। इस प्रकरण में हर संभव कड़ी से कड़ी कार्यवाही छत्तीसगढ़ सरकार करेगी।



No comments