Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

जशपुर में दिव्यांग लड़की से दुष्कर्म केस के बाद कलेक्टर महादेव कावरे को हटाया

  रायपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में सरकारी दिव्यांग ट्रेनिंग सेंटर में एक दिव्यांग लड़की से दुष्कर्म और 5 अन्य से छेड़छाड़ के मामले में रा...

 


रायपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में सरकारी दिव्यांग ट्रेनिंग सेंटर में एक दिव्यांग लड़की से दुष्कर्म और 5 अन्य से छेड़छाड़ के मामले में राज्य सरकार एक्शन मोड में है। भूपेश बघेल सरकार ने जशपुर के कलेक्टर को बदल दिया है। बीजापुर जिले के कलेक्टर रितेश अग्रवाल को जशपुर का नया कलेक्टर बनाया गया है। जबकि जशपुर केलक्टर महादेव कांवरे को मंत्रालय बुलाया गया है। सोमवार की शाम को राज्य सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा 5 आईएएस अफसरों के तबादले की सूची जारी की गई। बताया जा रहा है कि जशपुर की घटना के बाद सीएम की नाराजगी के चलते तबादले किए गए हैं। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जारी तबदालों की सूची में जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे को मंत्रालय में शिफ्ट करते हुए विशेष सचिव, जल संसाधन विभाग नियुक्त किया गया है। बीजापुर कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल को जशपुर, अपर कलेक्टर रायगढ़ राजेंद्र कुमार कटरा को बीजापुर जिले का कलेक्टर नियुक्त किया गया है। इसके अलावा मुख्य नगर पालिका अधिकारी कोरबा कुंदन कुमार को कलेक्टर बलरामपुर-रामानुजगंज नियुक्त किया गया है। जबकि बलरामपुर-रामानुजगंज के कलेक्टर इंदरजीत सिंह चंद्रवाल को उपसचिव, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग नियुक्त किया गया है।
जशपुर की घटना के बाद बीजेपी ने खोला मोर्चा
बता दें कि बीते 22 सितंबर को जशपुर के दिव्यांग छात्रावास में एक लड़की के साथ वहीं के चौकिदार द्वारा दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया। यहीं चौकिदार और केयरटेकर द्वारा मिलकर 5 अन्य दिव्यांग लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगा है। इस घटना के बाद राज्य की कांग्रेस सरकार के खिलाफ बीजेपी ने मोर्चा खोल दिया है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने राज्य सरकार की कानून व्यवस्था पर ही सवाल उठाए हैं। बीजेपी सांसद गोमती साय समेत अन्य ने अधिकारियों पर कार्रवाई न होने के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है. हालांकि मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन आरोप लगाए जा रहे हैं। छेड़छाड़ की शिकायत पहले ही अधिकारियों से की गई थी।

No comments