Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

असफलताओं के कीर्तिमान गढ़ रही है कांग्रेस की राज्य सरकार : संदीप शर्मा

धमतरी। विगत दो वर्षों में राज्य की भूपेश सरकार ने असफलताओं के सारे कीतिर्मान अपने नाम कर लिए हैं, किसानों के साथ साथ आमजन, बेरोजगार युवाओं, ...


धमतरी। विगत दो वर्षों में राज्य की भूपेश सरकार ने असफलताओं के सारे कीतिर्मान अपने नाम कर लिए हैं, किसानों के साथ साथ आमजन, बेरोजगार युवाओं, एवं शासकीय कर्मचारियों से वादा खिलाफी के चलते इतनी जल्दी जनता का विश्वास खो देने वाली यह इतिहास की पहली सरकार है। उक्त बातें पत्रकारों से चर्चा करते हुए भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी संदीप शर्मा ने कही।
उन्होने आगे कहा कि भाजपा जन समस्याओं को न केवल सदन में उठाते रही बल्कि विगत 13 जनवरी को पूरे प्रदेश में 90 स्थानों पर धरना प्रदर्शन कर प्रदेश के शीर्ष नेताओं और लाखों कार्यकर्ता, किसानों के माध्यम से इस सोई सरकार को जगाने का प्रयास किया परंतु यह सरकार आमजन और किसानों को लगातार समस्याओं में उलझाते जा रही है। धान खरीदी में लगातार आनाकानी करने के कारण, नितनए फरमान जारी कर, रकबा में कटौती कर, भुगतान में विलंब कर, अनेक परेशानी खड़ी की जा रही है जिससे परेशान होकर किसान आत्महत्या जैसे कदम उठा रहे हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के क्षेत्र में रकबा कटौती से दुखी किसान धनीराम ने अपने खेत मे ही आत्महत्या कर लिया, अभनपुर, अहिवारा, सहित अनेक स्थानों में भी किसान अपने खेत के पेड़ में ही फांसी लगा कर आत्महत्या कर लिए। बारदाना का संकट खड़ी करी किसानों से बारदाना की मांग की जा रही है, किसान 40 रु में बारदाना खरीदने मजबूर हो रहे है, पिछले दो साल भी किसानों से अंतिम चरण में बारदाना लिए गए थे जिसके मामूली भुगतान भी इस किसान विरोधी सरकार ने नही किया। प्रभारी संदीप शर्मा ने एक सवाल के जवाब में बताया कि अब हमारी पार्टी भाजपा इस सरकार को जगाने जिला कलेक्ट्रेट के घेराव आयोजित करने जा रही है जिसमे हमारे शीर्ष नेतृत्व भी भागीदारी करेंगे। रायपुर में भाजपा की प्रदेश प्रभारी श्रीमती डी पुरंदेश्वरी, बिलासपुर में प्रदेश सहप्रभारी नितिन नबीन उपस्थित रहेंगे, यह कार्यक्रम 22 जनवरी को आयोजित है। उक्त धरना घेराव के माध्यम से, बारदाना के बहाने घोटालाबाजी बन्द करने, रकबा कटौती बन्द कर रकबा वापस जोडऩे, दाना दाना धान खरीदने, किसानों को धान के कीमत का बकाया भुगतान एवं कीमत का एकमुश्त भुगतान करने, बककया बोनस का भुगतान जिसका वादा किये है, दिवंगत किसानों के परिवार को 25 लाख रु की अनुग्रह का भुगतान, खरीदे गए धान को संग्रहण केंद्र में ले जाये जाने हेतु, वन अधिकार पट्टा प्राप्त किसानों के धान खरीदने, जैसे मांगो को लेकर कलेक्ट्रेट का घेराव किया जाएगा।
**

No comments