Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

ब्रिस्बेन चौथा टेस्ट:पुजारा 56 रन बनाकर आउट, पंत से उम्मीद

नई दिल्ली। ब्रिस्बेन में खेले जा रहे चौथे और अंतिम टेस्ट मैच को जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 328 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा है। 1...


नई दिल्ली। ब्रिस्बेन में खेले जा रहे चौथे और अंतिम टेस्ट मैच को जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 328 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा है। 1-1 से बराबर चल रही सीरीज को जीतने के लिए टीम इंडिया पूरी ताकत लगा रही है। 211 गेंद में 56 रन बनाकर पुजारा पेसर पैट कमिंस का शिकार हुए। गेंद तेजी से अंदर आई। जोरदार अपील पर अंपायर ने अंगुली उठा दी। पुजारा ने रिव्यू लिया, लेकिन अंपायर्स कॉल। ऑस्ट्रेलिया की मैच में वापसी। मयंक अग्रवाल अब ऋषभ पंत का साथ देने आए हैं।
-शुभमन गिल ने रचा इतिहास
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन में चल रहे आखिरी टेस्ट के आखिरी दिन शुभमन गिल का बल्ला खूब चला। 21 वर्षीय युवा सलामी बल्लेबाज ने एक बार फिर से यहां शानदार पारी खेली। गिल ने अपनी पारी के दौरान कई उपलब्धियां भी हासिल की। वह अब भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट की चौथी पारी में अर्धशतक बनाने वाले भारत के सबसे युवा ओपनर बन गए। पहले यह रिकॉर्ड महान सुनील गावस्कर के नाम था। लिटिल मास्टर ने 1970-71 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में नाबाद 67 रन बनाए थे, वह उनका डेब्यू टेस्ट था। अब गिल ने अपने तीसरे टेस्ट में 21 साल, 133 दिन की उम्र में यह कारनामा किया।
गिल ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच में नर्वस नाइंटी में आउट होने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। इसके अलावा वह ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच की चौथी पारी में अर्धशतक लगाने वाले अब सबसे युवा भारतीय भी हैं, इस मामले में उन्होंने दिलीप वेंगसरकर को पीछे छोड़ दिया।
बता दें कि पहली पारी में मात्र सात रन पर आउट होने वाले गिल ने दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की खूब धुनाई की। शुभमन भले अपने पहले टेस्ट शतक से चूक गए, लेकिन आउट होने से पहले उन्होंने 146 गेंदों में 91 रन बनाए। दाएं हाथ के इस युवा बल्लेबाज ने अपनी पारी के दौरान आठ चौके और दो छक्के लगाए। इस दौरान उन्होंने मिचेल स्टार्क की एक ओवर में लगातार दो चौके और एक छक्का लगाकर 20 रन बटोरे। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 114 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी भी निभाई।
गिल ने इसी के साथ अपनी डेब्यू टेस्ट सीरीज में 50 से अधिक की औसत से 200 रन भी पूरे कर लिए। बात करें सीरीज में उनके प्रदर्शन की तो गिल ने मेलबर्न टेस्ट में 45 और 35* की पारियां खेली। इसके बाद सिडनी टेस्ट में उन्होंने 50 और 31 रन बनाए और अब ब्रिस्बेन में सात और 91 रन लगाते ही महज नौ रन से शतक से चूके।

No comments