Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

इन उपाय से कम कर सकते हैं पावर कंजक्शन

बिलासपुर। गर्मी से बचने के लिए हम घर में प्रवेश करते ही सबसे पहले एसी और कूलर चालू करते हैं। अब एसी और कूलर कमरे की गर्मी तो कम करते हैं, ...

बिलासपुर। गर्मी से बचने के लिए हम घर में प्रवेश करते ही सबसे पहले एसी और कूलर चालू करते हैं। अब एसी और कूलर कमरे की गर्मी तो कम करते हैं, लेकिन बिजली बिल को बढ़ा देते हैं। गर्मियों में बिजली का बिल बढ़ने का सबसे मुख्य कारण भी एयर कंडीशनर और कूलर का अधिक उपयोग ही होता हैं। इसके चलते बिजली की खपत बढ़ा जाती हैं, जिससे बिजली बिल काफी ज्यादा आता है।   इसके साथ ही लगातार पंखा और फ्रिज चलने की वजह से बिजली का बिल आसमान छू रहा होता हैं। इमसें कूलर और एसी का बिल भी जोड़ने से लोग परेशान हो उठते हैं, लेकिन गर्मी में इनको बंद भी नहीं कर सकते हैं। ऐसे में क्या किया जाए कि गर्मी भी न लगे और बिजली का बिल भी कुछ कम हो जाए। अगर अनावश्यक एयर कंडीशनर चलाने से बचें तो बिजली की बचत हो सकती है। इसके साथ ही बाजार में ज्यादातर एयर कंडीशनर टाइमर सेटिंग वाले मिलते है। उन एयर कंडीशनरों को खरीदें। इसे चलाने से पहले इसका टाइम सेट कर दें। इससे जरूरत के हिसाब से एयर कंडीशनर चलेगा और फिर वह तय समय पर बंद हो जाएगा। इससे बिजली की काफी बचत होगी।

इन उपाय से कम कर सकते हैं पावर कंजक्शन
अगर पंखों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो रेगुलेटर जरूर लगवाएं। कई बार ठंड लगने के बावजूद पंखे उसी गति में चलते रहता है। जो बिजली की खपत को भी अधिक बढ़ाता है।
जरूरत न हो तो मोबाइल, लैपटाप समेत अन्य चीजों के वार्जर को अनप्लग कर दें। यह बिजली खपत करते रहते है।
लाइट को जहां जरूरत न हो बंद कर दें, ऐसा करने से बिजली भी बचती है। इसके अलावा रात को सिर्फ टेबल लैम्प ही जलाएं।
कई बार बल्ब, ट्यूब लाइट, सीएफएल आदि में धूल जम जाने से भी लाइट कम आती है, जिसके कारण दूसरा लाइट जलाना पड़ता है। ऐसे में बीच-बीच में इनकी सफाई करते रहे।
इलेक्ट्रिक आयरन वैसा लें, जिसका तापमान बढ़ते ही आटोमेटिक बंद हो जाए। आयरन करते समय गीले कपड़ों पर प्रेस न करें। साथ ही साथ कपड़ों पर ज्यादा पानी न छिड़कें। इससे भी बिजली अधिक खर्च होती है।
कम्प्यूटर, टीवी, म्यूजिक सिस्टम आदि का काम न हो तो मैन स्विच बंद कर दें, ऐसा करने से बिजली की खपत नहीं होती है।
अगर फिर भी कम्प्यूटर प्रोसेस में है तो कम से कम मानिट आफ करके भी बिजली की बचत कर सकते है।
इसके अलावा कम्प्यूटर, लैपटाप को एनर्जी सेविंग मोड में चलाने से भी बिजली बचती है। 

No comments