Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

दो छात्राओं को सहपाठी मुस्लिम छात्र ले गए भगाकर, रघुनाथपुर में तनाव

  बिलासपुर। सरगुजा जिले के रघुनाथपुर स्थित निजी स्कूल की दो छात्राओं को भगा ले जाने से तनाव का माहौल निर्मित हो गया है। छात्राओं को भगा ले ...

 

बिलासपुर। सरगुजा जिले के रघुनाथपुर स्थित निजी स्कूल की दो छात्राओं को भगा ले जाने से तनाव का माहौल निर्मित हो गया है। छात्राओं को भगा ले जाने वाले भी उसी स्कूल के छात्र हैं। दोनों मुस्लिम हैंबहला-फुसलाकर दोनों छात्राओं को रांची ले जाया गया था। रात में ही पुलिस ने सभी को बरामद कर लिया है। घटना के बाद से रघुनाथपुर में तनाव की स्थिति बन गई है। मंगलवार रात बड़ी संख्या में लोगों ने रघुनाथपुर चौकी के बाहर जमे रहे। बुधवार सुबह छात्रों के घरों में लोगों ने पथराव कर आग लगाने की कोशिश भी की। हालांकि पुलिस ने आग को तुरंत बुझा लिया। बिगड़ते हालात को देखकर मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। अंबिकापुर से बड़ी संख्या में पुलिस व प्रशासन के अधिकारी रघुनाथपुर में स्थानीय नागरिकों से चर्चा आरंभ कर दी है। मामले में उचित कार्रवाई का भरोसा देकर विवाद को शांत कराने का प्रयास किया जा रहा है।  लुंड्रा थाना क्षेत्र के ग्राम रघुनाथपुर स्थित एक निजी विद्यालय में कक्षा नवमीं में पढ़ने वाली दो छात्राएं सोमवार को परीक्षा देने गई थी। सुबह नौ बजे से दोपहर 12 बजे तक परीक्षा थी। परीक्षा देने के बाद दोनों घर नहीं पहुंचे। दोपहर बाद स्वजन जब स्कूल पहुंचे तो मुस्लिम समुदाय के दो छात्रों के साथ उनको देखे जाने की जानकारी मिली। इस पर रघुनाथपुर पुलिस चौकी में शिकायत दर्ज कराई गई। घटना में क्षेत्र में तनाव का माहौल निर्मित हो गया। सीसी कैमरे में भी छात्रों के साथ दोनों छात्राएं नजर आई। इसी आधार पर पुलिस ने छात्रों का मोबाइल नंबर पता किया। उनका लोकेशन रांची की ओर मिला।इधर घटना से आक्रोशित लोगों की भारी भीड़ रघुनाथपुर चौकी के बाहर जमा रही। मध्यरात्रि के बाद तक लोग चौकी के बाहर जमे रहे। माहौल बिगड़ने की सूचना पर सरगुजा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने रांची के पुलिस अधिकारियों से फोन पर बात की।

रांची बस स्टैंड पर बस से उतरते ही रांची पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।रांची पहुंची सरगुजा पुलिस की टीम को छात्राओं और दोनों छात्रों को सौंप दिया गया। झारखंड पुलिस ने उन्हें लोदाम तक पहुंचाया। लोदाम से जशपुर पुलिस के साथ सरगुजा पुलिस चारों को लेकर बुधवार सुबह अंबिकापुर पहुंची। तनाव की स्थिति को देखते हुए उन्हें रघुनाथपुर नहीं ले जाया गया। छात्राओं को रघुनाथपुर पुलिस चौकी ले जाया गया उधर छात्रों को बतौली थाने में रखा गया है। इधर बुधवार सुबह घटना से आक्रोशित लोगों ने दोनों छात्रों के घरों में पथराव किया और एक घर में आग लगाने की कोशिश की।

बड़ी संख्या में तैनात पुलिस बल ने लोगों को रोक दिया। दोनों छात्रों के परिजन घर छोड़कर पहले ही जा चुके थे। इस दौरान पुलिस से लोगों की बहस भी हुई। पुलिस ने लोगों को समझाइश देकर शांत किया।तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिस बल को रघुनाथपुर में दोनों छात्रों के घरों के पास तैनात कर दिया गया है। सरगुजा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमोलक सिंह ढिल्लो, डीएसपी शुभम तिवारी, सहित लुंड्रा, धौरपुर और बतौली के थाना प्रभारी के साथ ही पुलिस लाइन से अतिरिक्त पुलिस बल को रघुनाथपुर में तैनात किया गया है। छात्राओं को भगाकर ले जाने के मामले में पुलिस ने छात्रों के विरुद्ध धारा 363,366 तथा लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धाराओं के तहत फिर पंजीकृत किया गया है। दोनों छात्राओं से पूछताछ की जा रही है। उनके बयान के आधार पर मामले में अलग से भी धाराएं बढ़ाई जा सकती हैं। 

No comments