Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

छत्तीसगढ़ के युवाओं को अंतर्राष्ट्रीय कम्पनियों के साथ काम करने का मिलेगा मौका: मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय

   आईटी के क्षेत्र में टेक्निकल यूनिवर्सिटी का कार्य काबिले तारीफ मुख्यमंत्री ने दुर्ग संभाग के लिए 268 करोड़ रूपए की लागत के विकास कार्याे...

  

आईटी के क्षेत्र में टेक्निकल यूनिवर्सिटी का कार्य काबिले तारीफ

मुख्यमंत्री ने दुर्ग संभाग के लिए 268 करोड़ रूपए की लागत के विकास कार्याें का किया लोकार्पण और भूमिपूजन

 सीएसवीटीयू भिलाई के नवनिर्मित आर्यभट्ट भवन का शुभारंभ
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने कहा है कि टेक्नालॉजी की पढ़ाई कर रहे युवाओं को अब भिलाई में ही इन्फॉरमेशन टेक्नालॉजी के क्षेत्र में बेहतर ट्रेनिंग मिलेगी और अंतर्राष्ट्रीय कम्पनियों के साथ काम करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं के लिए विश्वविद्यालय की यह पहल बहुत सराहनीय है। वे आज छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर में नवनिर्मित आर्यभट्ट भवन के शुभारंभ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि आर्यभट्ट भवन में अमेरिका की आईटी सेक्टर की कम्पनी कार्यरत है, जिसके प्रमुख छत्तीसगढ़ से है और वे अमेरिका में रहते हैं। बतौर छत्तीसगढ़िया मेरे साथ-साथ यह प्रदेशवासियों के लिए बड़े गर्व की बात है। उन्हांेने कहा कि इस कम्पनी के माध्यम से प्रदेश के सैकड़ों युवा रोजगार के साथ शोध और अनुसंधान के क्षेत्र में भी कार्य कर पाएंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने दुर्ग संभाग अंतर्गत विभिन्न जिलों के लिए 268 करोड़ 56 लाख रूपए की लागत के 26 विकास कार्याें का लोकार्पण-शिलान्यास किया। साथ ही आर्यभट्ट भवन निर्माण कार्य में संलग्न श्रमवीरों को शॉल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया।  मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज एक साथ ढ़ाई सौ करोड़ रूपए से अधिक लागत के विकास कार्याें का लोकार्पण व भूमिपूजन हुआ है। जिसका लाभ संभाग के सभी जिलेवासियों को मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री साय ने कहा कि पहली कैबिनेट में ही प्रदेश के गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 18 लाख आवास स्वीकृत करने का निर्णय किया गया है। किसानों को धान के दो वर्षाें के बोनस की बकाया राशि 3716 करोड़ रूपए किसानों के खाते में अंतरण किया गया है। वन क्षेत्रों में रहने वाले तेंदूपत्ता संग्राहकों को प्रति मानक बोरा 5 हजार 500 रूपए पारिश्रमिक दिया जाएगा। श्री साय ने कहा कि मोदी जी की गांरटी के मुताबिक सरकार महतारी वंदन योजना के पात्र हितग्राही महिलाओं को प्रतिमाह एक हजार रूपए शीघ्र देने जा रही है। योजना अंतर्गत प्रदेश में 70 लाख 74 हजार आवेदन प्राप्त हुए है। सरकार सभी पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करेगी। उन्होंने कहा कि इस वर्ष प्रदेश में किसानों से रिकार्ड 145 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी 3100 रूपये प्रति क्विंटल के मान से खरीदी हुई है। किसानों को समर्थन मूल्य के भुगतान पश्चात अंतर की राशि भी किसानों के खातों में शीघ्र अंतरित की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री साय ने प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रतिभागियों को सरकार की गारंटी से अवगत कराते हुए कहा कि राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा में हुई गड़बड़ियों की जांच सीबीआई को सौंपी गई है।  प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री अरूण साव और श्री विजय शर्मा तथा विधायक श्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा, श्री ललित चन्द्राकर, श्री गजेन्द्र यादव, श्री रिकेश सेन, श्री ईश्वर साहू एवं सांसद श्री विजय बघेल विशेष रूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने टेक्निकल यूनिवर्सिटी में आर्यभट्ट भवन निर्माण कार्य में संलग्न श्रमवीरों को शॉल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया। समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री साय ने कहा कि आर्यभट्ट भवन में अमेरिका की कम्पनी आईटी सेक्टर में कार्यरत है। कंपनी सैकड़ों युवाओं को आईटी में प्रशिक्षित कर, विदेश में कार्य का अवसर भी देगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालय का यह प्रयास तारीफ के काबिल है।  उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि आज संभागवासियों को ढ़ाई सौ करोड़ के कार्यों की सौगात मिली है। छत्तीसगढ़ को सजाने और संवारने का सिलसिला शुरू हो गया है। जिले के प्रभारी मंत्री श्री विजय शर्मा ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का यह आयोजन आम जनता के लिए है। उन्होंने टेक्निकल यूनिवर्सिटी के कार्यों को विस्तार पूर्वक रेखांकित किया। साथ ही उन्होंने केंद्र और राज्य की प्रस्तावित कार्ययोजना की भी जानकारी साझा की। समारोह को सांसद श्री विजय बघेल ने भी सम्बोधित किया।
   समारोह में संभागायुक्त श्री एस.एन. राठौर ने दुर्ग संभाग का शासकीय प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। सीएसवीटीयू के कुलपति डॉ. एम.के.वर्मा ने विश्वविद्यालय की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर विधायक श्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा, श्री ललित चन्द्राकर, श्री गजेन्द्र यादव, श्री रिकेश सेन एवं श्री ईश्वर साहू, पूर्व विधायक श्री लाभचंद बाफना, नगर निगम रिसाली की महापौर श्रीमती शशि सिन्हा, कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र शुक्ला, जिला एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारीगण, गणमान्य नागरिक, युनिवर्सिटी के अधिकारी एवं विद्यार्थीगण उपस्थित थे।

No comments