Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

आवासीय कॉलोनी राज्य के लिए बने मिसाल: चीफ जस्टिस श्री सिन्हा

   चीफ जस्टिस ने ग्राम खेढ़ा में निर्माण कार्य का किया वर्चुअल भूमिपूजन एवं शिलान्यास रायपुर । किसी भी जिले में न्यायिक अधिकारियों एवं कर्म...

  

चीफ जस्टिस ने ग्राम खेढ़ा में निर्माण कार्य का किया वर्चुअल भूमिपूजन एवं शिलान्यास

रायपुर । किसी भी जिले में न्यायिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिये सर्वसुविधायुक्त रहवासी कॉलोनी उत्साहवर्धक एवं नयी उर्जा का संचार करने वाली होती है, जिससे उनके कार्यकुशलता में और दक्षता में वृद्धि होती है, जिले के नये कॉलोनी ऐसा बने जो राज्य के लिये एक मिसाल साबित हो। इस आशय के विचार छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय मुख्य न्यायाधिपति न्यायमूर्ति श्री रमेश सिन्हा के द्वारा मुंगेली जिले के ग्राम खेढ़ा में न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिये रहवासी आवासीय कॉलोनी के वर्चुअल भूमिपूजन एवं शिलान्यास के अवसर पर व्यक्त किए।  चीफ जस्टिस श्री सिन्हा ने आवास गृह निर्माण के लिए शुभकामनाएं दी और कहा कि न्यायालयों को बुनियादी ढांचा प्रदान करने के लिए राज्य सरकार के सहयोग से काम किया जा रहा है और इसके लिए पहल भी शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि हमें राज्य के न्यायालयों में काम करने का बेहतर माहौल प्रदान करना है। यह परियोजना न्यायिक अधिकारी-कर्मचारियों के लिए आवास प्रदान करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है, ताकि आवास प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े। उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों और इंजीनियरों को इस परियोजना को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा पर पूरा करने के निर्देश दिए। श्री सिन्हा ने निर्माण कार्य की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए न्यायालयीन अधिकारियों को भी इस परियोजना की सतत् निगरानी रखने के लिए भी कहा। भूमि पूजन एवं आधारशिला के कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं पोर्टफालियो जज श्री नरेन्द्र कुमार व्यास द्वारा संबोधित करते हुए बताया कि जिला मुंगेली के न्यायिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिये एक बी टाईप, एक ई टाईप, 3 जी टाईप, 16 एच टाईप एवं 9 आई टाईप शासकीय आवास गृह निर्माण की 04 करोड़ 84 लाख रूपए आबंटित की गई है। उन्होंने कहा कि आवास निर्माण तय समय पर गुणवत्तापूर्वक किये जाने से जिला प्रशासन की विश्वसनीयता बढ़ती है, इसलिए गुणवत्तापूर्वक निर्माण कार्य तय समय पर की जानी चाहिए। गौरतलब है कि न्यायिक अधिकारी-कर्मचारियों के लिये विकासखण्ड मुंगेली के ग्राम खेढ़ा में आवास गृह निर्माण किया जाना है, जिसका छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश श्री सिन्हा एवं मुंगेली जिला के पोर्टफोलियो जज श्री व्यास द्वारा आज सुबह विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर आधारशिला रखी गई। इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री चन्द्रकुमार अजगल्ले द्वारा मुख्य न्यायाधिपति और पोर्टफोलियो जज का स्वागत करते हुए मुंगेली जिला को नई सर्वसुविधायुक्त रहवासी कॉलोनी की सौगात देने के लिए स्वागत किया गया।  प्रस्तावित न्यायिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिये रहवासी कॉलोनी के भूमि पूजन एवं आधारशिला के कार्यक्रम के पूर्व जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री चन्द्रकुमार अजगल्ले, परिवार न्यायालय के प्रिंसिपल जज श्रीमती कीर्ति लकड़ा, प्रथम जिला न्यायाधीश श्री नीरज शर्मा, विशेष न्यायाधीश श्री पी. एस. मरकाम, न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती रेशमा बैरागी पटेल, सुश्री श्वेता ठाकुर एवं अनंतदीप तिर्की द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विधि-विधान से भूमिपूजन किया गया। कार्यक्रम में जिला न्यायालय के सभी न्यायाधीश, कलेक्टर श्री राहुल देव, नवपदस्थ पुलिस अधीक्षक श्री गिरिजाशंकर जायसवाल, अपर कलेक्टर श्री विजेंद्र सिंह पाटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती प्रतिभा पाण्डेय, मुंगेली एसडीएम श्री प्रवीण तिवारी, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री टीकम चन्द्राकर एवं पदाधिकारी, जिले के सभी न्यायिक अधिकारीगण सहित जिला न्यायालय के सभी कर्मचारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मयंक सोनी द्वारा किया गया एवं आभार प्रदर्शन मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री बलराम कुमार देवांगन द्वारा किया गया। विदित हो कि जिला मुख्यालय समीपस्थ ग्राम खेढ़ा में वर्तमान में बसाहट न होने से विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वर्चुअल रूप से भूमिपूजन करवाया जाना विशेष चुनौतीपूर्ण रहा। परंतु जिला के पोर्टफोलियो जज श्री नरेन्द्र कुमार व्यास के निर्देशन में और जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री चन्द्रकुमार अजगल्ले के मार्गदर्शन और प्रथम अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश श्री नीरज शर्मा के सुपरविजन में जिला न्यायालय द्वारा कनेक्टिविटी के लिये श्री पी. एस. मरकाम विशेष न्यायाधीश एवं श्री बलराम कुमार देवांगन मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की टीम बनाई गई थी, जिन्होंने जिले के कलेक्टर, एसडीएम सहित भारत संचार निगम लिमिटेड एवं लोक निर्माण विभाग से सतत् प्रयास कर वर्चुअल मोड में आवासीय कॉलोनी के भूमिपूजन एवं आधारशिला के कार्य को सफलतापूर्वक संपन्न करवाया।

No comments