Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

संजीव जीवा मर्डर केस का राज खुलेगा? शूटर विजय पुलिस रिमांड में

लखनऊ। मुख्तार अंसारी के करीबी संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा की लखनऊ की कोर्ट में सनसनीखेज तरीके से हत्या करने वाले विजय यादव की तीन दिन की पुलिस...

लखनऊ। मुख्तार अंसारी के करीबी संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा की लखनऊ की कोर्ट में सनसनीखेज तरीके से हत्या करने वाले विजय यादव की तीन दिन की पुलिस रिमांड मंजूर हो गई है। रिमांड के दौरान पुलिस हत्या के पीछे के असली कारणों को जानने के साथ ही विजय के कबूलनामे की पुष्टि करेगी। विजय ने काठमांडु में जीवा की हत्या की सुपारी मिलने की बात कही है। विजय ने हत्याकांड के बाद कबूल किया था कि असलम नाम के शख्स ने जीवा को मारने के लिए 20 लाख की सुपारी दी थी। असलम ने कहा था कि उसके भाई आतिफ उर्फ अतीफ की दाढ़ी जीवा ने नोच ली थी। उसकी कई बार बेइज्जती कर चुका है। इसलिए उसकी हत्या कर दो, इसके लिए 20 लाख रुपये दिए जाएंगे। पुलिस अफसर उसके इस बयान के आधार पर ही असलम और विजय को असलहा देने वाले की तलाश कर रही है। असलम कौन है? इस बारे में उसने सिर्फ यही कहा था कि उसे भाई आतिफ की बेइज्जती का बदला लेना है। इससे ज्यादा असलम के बारे में वह कुछ नहीं बता सका था। तब से असलम की तलाश की जा रही है। रिमांड के दौरान पुलिस असलम के बारे में भी पता लगाएगी। जेल अफसरों से विवेचक ने सम्पर्क कर आतिफ के बारे में पूछा तो पता चला कि वहां चार आतिफ उर्फ अतीफ हैं। इनमें से किसी का भाई असलम नहीं है। जीवा के समय कोई और आतिफ भर्ती नहीं था। इस पर पुलिस यह भी मान रही है कि विजय उन्हें उलझा रहा है। एक अधिकारी ने यह भी कहा कि विजय बेहद शातिर है। इतना घायल होने के बाद भी वह झूठ बोलता रहा। उसने कई और बयान ऐसे दिए जो पड़ताल में झूठे निकले। पुलिस की एक टीम काठमांडू भी गई थी। अभी कोई सटीक जानकारी नहीं मिली है।

No comments