Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्कूली बच्चों की स्पीड रीडिंग एवं मौखिक गणित की राज्यस्तरीय प्रतियोगिता 16 नवंबर को

रायपुर में जुटेंगे प्रदेशभर के विद्यार्थी पांच संभागों के 40 विद्यार्थी करेंगे अपने प्रतिभा का प्रदर्शन प्राथमिक और मिडिल स्कूल के बच्चे हों...


रायपुर में जुटेंगे प्रदेशभर के विद्यार्थी

पांच संभागों के 40 विद्यार्थी करेंगे अपने प्रतिभा का प्रदर्शन

प्राथमिक और मिडिल स्कूल के बच्चे होंगे शामिल

रायपुर। प्रदेश में संचालित प्राथमिक और माध्यमिक स्तर के स्कूली बच्चों की स्पीड रीडिंग और मौखिक गणित की राज्यस्तरीय प्रतियोगिता 16 नवंबर को राजधानी रायपुर में होगी। इसमें 5 संभागों के चयनित 40 विद्यार्थी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे।

 प्रबंध संचालक समग्र शिक्षा ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों और जिला मिशन समन्वय को प्रतियोगिता आयोजन के संबंध में दिशा-निर्देश जारी करते हुए कहा है कि 16 नवंबर को स्पीड रीडिंग एवं मौखिक गणित में संभाग स्तर पर विजयी प्राथमिक और मिडिल स्कूल स्तर के प्रतिभागियों को राज्यस्तरीय प्रतियोगिता के लिए रायपुर लाना सुनिश्चित करें। जिला एवं संभाग स्तर पर चयनित विद्यार्थी स्पीड रीडिंग के मामले में और मौखिक गणित के सवालों को हल करने के मामले में बहुत अच्छे स्तर के होने चाहिए। प्रत्येक जिले से चयनित विद्यार्थियों के नाम एवं विवरण राज्यस्तर पर प्रतियोगिता में आने वाली टीम के साथ भेजा जाए। सफल आयोजन के लिए जिलों में कार्यरत पीएमयू को भाषा, गणित एवं टेक्नालॉजी के उपयोग तथा ऑनलाइन प्रतियोगिता के आयोजन के लिए लिया जाए। 

प्रबंध संचालक समग्र शिक्षा द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि समय की कमी को ध्यान में रखते हुए स्कूल स्तर पर इन प्रतियोगिता का आयोजन करना कठिन होगा। अतः प्रतियोगिता में स्वेच्छा से शामिल होने के लिए स्कूलों को अवसर प्रदान करें। जिन शालाओं में शिक्षक अपने बच्चों के साथ अच्छी मेहनत करते हैं, उन्हें लगता है कि उनके बच्चों की स्पीड रीडिंग एवं मौखिक गणित में अच्छी पकड़ है, केवल उन्हीं स्कूलों को इसमें शामिल होने का अवसर दें। इस प्रतियोगिता में स्कूलों को शामिल होने की बाध्यता नहीं होगी, परंतु इस अवसर का लाभ उठाते हुए सभी स्कूलों में भी इन दोनों प्रतियोगिताओं का आयोजन अवश्य करवाया जाए। विकासखण्ड स्तर पर स्वेच्छा से प्रतियोगिता में शामिल होने वाले स्कूलों और उनके द्वारा नामांकित बच्चों के नाम मंगवाते हुए 11 नवंबर को ऑनलाइन माध्यम से दोनों प्रतियोगिताओं में प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर दें। विकासखण्ड से सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले बच्चे का चयन जिलास्तर के लिए किया जाए। विकासखण्ड स्तर पर चयनित 4 विद्यार्थियों में से दो विद्यार्थी स्पीड रीडिंग और दो मौखिक गणित, जिसमें एक प्राथमिक और एक मिडिल स्कूल स्तर का होना चाहिए। इनकी ऑनलाइन माध्यम से प्रतियोगिता का आयोजन 12 नवंबर तक कर लिया जाए। 

इसी प्रकार जिला स्तर पर चयनित विद्यार्थियों की प्रतियोगिता का आयोजन संभाग स्तर पर किया जाए। संभाग स्तर पर प्रत्येक विधा में प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले चयनित प्रतिभागियों को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में शामिल होने लाया जाए। प्रत्येक संभाग से 8 विद्यार्थियों में से दो स्पीड रीडिंग एवं दो मौखिक गणित सहित कुल चार प्राथमिक स्तर और इसी प्रकार मिडिल स्कूल स्तर से भी चार विद्यार्थियों को 16 नवंबर को एक-एक शिक्षक के साथ रायपुर भेजा जाए। 

प्रतियोगिता आयोजन के संबंध में निर्देशित किया गया है कि विकासखण्ड, जिला एवं संभाग स्तर पर ऑनलाईन प्रतियोगिता आयोजन के लिए एक्सपर्ट की टीम का गठन कर लिया जाए। इस टीम के माध्यम से बच्चों के प्रस्तुतिकरण देखने के बाद उनमें से जज के रूप में प्रत्येक स्तर पर उत्कृष्ट विद्यार्थियों का चयन करें। मौखिक गणित के लिए प्राथमिक और गणित स्कूल स्तर पर विद्यार्थियों से सवाल करना पर्याप्त संख्या में उनके स्तर के अनुरूप हल करने योग्य मौखिक सवाल पहले से तैयार रखें जाएं। राज्य स्तर पर भी इन सवालों को भेजकर विभिन्न स्तरों पर पूछे जा रहे सवालों के संबंध में सूचित करें। स्पीड रीडिंग के लिए प्राथमिक स्तर पर कुछ अपरिचित पाठ्य सामग्री की उपलब्धता रखी जाए, जिसे ऑनलाइन पढ़ना होगा। इसी प्रकार मिडिल स्कूल स्तर पर ‘सौ दिन सौ कहानियां’ सीरीज में से कुछ पुस्तकें पढ़ने का अवसर देते हुए बच्चों की समझ की परख के लिए प्रश्न भी पूछे जाएं।

No comments