Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

दिल्ली की शिक्षा नीति की नकल कर भूपेश जी ने खोले आत्मानंद स्कूल पर शिक्षा स्तर महज दिखावा भर : कोमल हुपेंडी

अब तक आत्मानंद स्कूलों में नहीं हो पाई शिक्षकों की भर्ती तो पढ़ायेगा कौन,शिक्षा का स्तर भगवान भरोसे  रायपुर । आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक...


अब तक आत्मानंद स्कूलों में नहीं हो पाई शिक्षकों की भर्ती तो पढ़ायेगा कौन,शिक्षा का स्तर भगवान भरोसे 

रायपुर । आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने आज कहा कि दिल्ली की शिक्षा नीति की नकल करके  भूपेश की कांग्रेस सरकार ने वाह वाही लूटने प्रदेश भर में धड़ाधड़ नए आत्मानंद स्कूल  खोले लेकिन भूल गए की इन स्कूल के अच्छे शिक्षा स्तर के लिए अच्छे शिक्षकों की नियुक्ति भी उतनी ही ज़रूरी है। अब तक आत्मानंद स्कूलों में नहीं हो पाई शिक्षकों की भर्ती तो पढ़ायेगा कौन,शिक्षा का स्तर भगवान भरोसे ही रहेगा । सिर्फ स्कूल खोलना और बच्चो को छल कर दाखिला दे देने भर से बच्चो का भविष्य नही संवरने वाला है। 

आत्मानंद स्कूल में शिक्षा स्तर महज दिखावा भर है ,अब तक आत्मानंद स्कूलों में नहीं हो पाई है शिक्षकों की भर्ती तो पढ़ायेगा कौन,शिक्षा का स्तर जुगाड़ से और भगवान भरोसे चल रहा है।
पढ़ाई अत्याधिक प्रभावित हो रही है।आम आदमी पार्टी को टीम जानकारी के अनुसार 247 स्कूलों में शिक्षकों के दो हजार 857 पद खाली अभी भी खाली है।

प्रदेश के महत्वाकांक्षी स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में सहायक शिक्षक से लेकर शिक्षक, व्याख्याता और प्राचार्य के पद खाली हैं। शिक्षकों के 12,857 पद रिक्त हैं तो गैर शिक्षकीय वर्ग से भी 1,069 पदों पर अभी तक भर्ती नहीं हो पाई है। बाकी पदों के लिए अभी तक भर्ती प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है। इससे बच्चों की पढ़ाई और भविष्य संकट में पड़ गए है।

नए स्कूलों के लिए भी शिक्षकों की बहुत कमी है। कुछ जगह अभी तक बच्चों का दाखिला भी नहीं हो पाया है। जानकारी लेने पर कुछ अधिकारियों का कहना है कि जिन स्कूलों में प्रतिनियुक्ति के आधार पर शिक्षक नियुक्त हो चुके हैं, वहां पढ़ाई शुरू हो गई है। बाकी जगहों पर भी भर्ती के लिए प्रक्रिया चल रही है। पहले से संचालित स्वामी आत्मानंद के 176 स्कूलों में अभी भी पदवार बहुत से पद स्थान खाली है।

मुख्यमंत्री जी द्वारा जिस गति से स्वामी आत्मानंद स्कूल खोले जा रहे हैं, उससे मानव संसाधन के बिना विद्यार्थियों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा देना मुश्किल हो जाएगा। यहां जल्द से जल्द शिक्षक की
नए अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में नए सिरे से भर्ती की प्रक्रिया की जानी चाहिए।

आम आदमी पार्टी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से जनता के साथ मिलकर आवाह्न करती है कि नकल कीजिए मगर कुछ जन उपयोगी हो ऐसे कीजिए ना की बच्चों का भविष्य खराब करने की योजना लागू करे।
जनता अब बर्दाश नही करेगे और आम आदमी पार्टी इन मुद्दों को लेकर जनता की साथ मिलकर इस खिलवाड़ के विरुद्ध आंदोलन खड़ा करेगी।

No comments