Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

भाजपा जीती तो योगी यूपी के सीएम नहीं रहेंगे: केजरीवाल

  लखनऊ । आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भविष्यवाणी करते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)...

 

लखनऊ । आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भविष्यवाणी करते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) यदि लोकसभा चुनाव जीतती है तो न सिर्फ अनुसूचित जाति.जनजाति का आरक्षण खत्म किया जायेगा बल्कि योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद से हटा दिया जायेगा। श्री केजरीवाल ने गुरुवार को यहां समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा “ भाजपा यदि चुनाव जीतती है तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दो महीने के भीतर यूपी के सीएम पद से हटा दिया जायेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अगले साल रिटायरमेंट ले लेंगे और श्री अमित शाह देश के नये प्रधानमंत्री होंगे। इसके अलावा संविधान में परिवर्तन कर अनुसूचित जाति जनजाति का आरक्षण खत्म कर दिया जायेगा।” उन्होने कहा कि भाजपा गठबंधन की जीत की संभावनायें हालांकि न के बराबर हैं। पंजाब,हरियाणा,उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में भाजपा की हालत बेहद खराब है और उसे 220 सीट से ज्यादा मिलती नहीं दिखायी दे रही हैं। आप संयोजक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अगले साल 75 साल के हो जायेंगे और उन्हे विश्वास है कि वह अपने बनाये नियम को जिसमें 75 साल से अधिक उम्र् के लोगों को पार्टी अथवा सरकार में किसी भी पद से हटा दिया जायेगा, को आत्मसात करते हुये स्वयं प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे और उनकी जगह श्री अमित शाह को प्रधानमंत्री की कुर्सी दी जायेगी। उन्होने कहा कि श्री शाह की राह में श्री योगी रोड़ा बन सकते हैं, इसलिये उन्हे दो माह के भीतर यूपी के मुख्यमंत्री पद से हटा दिया जायेगा। श्री केजरीवाल ने कहा कि भाजपा अगर गलती से भी 400 से अधिक सीटों के साथ केंद्र की सत्ता में आती है तो एससी एसटी का रिजर्वेशन खत्म कर दिया जायेगा। यह बात उन्होने स्वयं भाजपा के सूत्रों से पता की है। भाजपा का मातृ संगठन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ शुरु से ही आरक्षण के खिलाफ रहा है। उन्होने कहा कि लोगों के भीतर भाजपा की नीतियों को लेकर बेहद गुस्सा है और इसीलिये इस बार भाजपा की जगह गठबंधन सरकार बनाने जा रहा है।

No comments