Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

पीएम मोदी ने जब पकड़ा सीएम धामी का हाथ, ऋषिकेश रैली में जमकर पीठ थपथपाई

   ऋषिकेश। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोद-पीएम मोदी ने मंच पर सीएम पुष्कर धामी की पीठ थपथपाई। धामी की पीठ थपथपाने पर लोगों से भरा पंडाल मोदी-धा...

  

ऋषिकेश। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोद-पीएम मोदी ने मंच पर सीएम पुष्कर धामी की पीठ थपथपाई। धामी की पीठ थपथपाने पर लोगों से भरा पंडाल मोदी-धामी जिंदाबाद के नारे से गूंज उठा। गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने मंच पर पहुंचते ही पहली पंक्ति में बैठे लोगों से हाथ मिलाना शुरू किया।

जैसे ही सीएम पुष्कर धामी का नंबर आया। प्रधानमंत्री ने कुछ देर तक उनकी पीठ थप थपाई। अपने भाषण में भी प्रधानमंत्री ने धामी सरकार के कार्यों की सराहना की। अपने 37 मिनट के भाषण में दो मिनट उन्होंने राज्य सरकार की टीम के कार्यों की तारीफ की।

प्रधानमंत्री मोदी की ओर से धामी सरकार की तारीफ करने पर करीब चार बार पंडाली में जोरदार तालियां भी बजीं। इस दौरान पूरे पंडाल में मोदी-धामी जिंदाबाद के नारे भी लगे। पीएम मोदी की रैली को लेकर लोगों में काफी उत्साह दिखाई दे रहा था।

प्रधानमंत्री ने जब सीएम का पकड़ा हाथ
मुख्यमंत्री धामी जब भाषण देने उठे और पीछे से जाने की कोशिश कर रहे थे तभी प्रधानमंत्री मोदी ने उनका हाथ पकड़ लिया और अपने सामने से जाने के लिए कहा। यह देखकर पंडाल में बैठे लोग तालियां बजाने लगे।

जब मोदी ने बजाया हुड़का
सीएम पुष्कर धामी ने पीएम मोदी को उत्तराखंडी हुड़का भेंट किया। जिसे मोदी ने मंच पर सबके सामने उत्साह के साथ बजाकर भी दिखाया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हुड़का देवताओं का आह्वान करने में ऊर्जा देता है। वह भी हुड़का बजाकर विपक्षियों को सदबुद्धि देने का आह्वान देवी-देवताओं से करेंगे।

देवताओं को शीश नवाना, बुजुर्गों को राम-राम कहना
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  ऋषिकेश में एक साधारण से शिष्टाचार के जरिए भी मतदाताओं तक अपना संदेश पहुंचाते नजर आए। जनसभा में अपने संबोधन के अंत में उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वो क्षेत्र के देवताओं को उनकी ओर से शीश नवाएं। साथ ही घर-घर जाकर लोगों, खासकर बुजुर्गों को उनकी तरफ से राम राम कहें।

प्रधानमंत्री ने रैली में उपस्थित लोगों से कहा कि इन दिनों नवरात्र चल रहे हैं। रामनवमी भी आने वाली है। ऐसे में सभी कार्यकर्ता रामनवमी के दिन गांव के देवताओं को उनकी ओर से प्रणाम करें। उन्होंने रैली में आए लोगों से कहा कि क्या आप मेरा एक पर्सनल काम करेंगे? इसके बाद उन्होंने कहा कि घर-घर जाकर बड़े-बुजुर्गों से कहना कि मोदी जी ऋषिकेश आए थे। वो आप सभी को राम-राम बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों का यह आशीर्वाद, उनके लिए एक ऊर्जा की तरह काम करेगा।

No comments