Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

रायपुर बाजार पर चढ़ा होली का रंग

    रायपुर। होली का बाजार धीरे-धीरे सजने लगा है। बच्चों की खास पसंद पिचकारी भी अब बिकने लगी है। हालांकि हाल के वर्षो में बाजार से चाइनीज स...

 

  रायपुर। होली का बाजार धीरे-धीरे सजने लगा है। बच्चों की खास पसंद पिचकारी भी अब बिकने लगी है। हालांकि हाल के वर्षो में बाजार से चाइनीज सामान पर लोगों का भरोसा कम हुआ है। पहले चाइनीज पिचकारी का बोलबाला हुआ करता था। दाम कम होने की वजह से इसकी बिक्री अधिक होती थी। क्वालिटी अच्छी नहीं होने के कारण होली आते-आते खराब हो जाती थी। ऐसे में अब अपने देश की पिचकारी खूब भा रही है। लोगों के सोच में भी बदलाव आने से चाइनीज सामान की अपेक्षा भारतीय सामान खरीदने पर जोर दे रहे हैं। सप्ताह के आखिर में पड़ने वाली होली के रंग में अब पूरा बाजार रंग गया है। चाहे वह शहर का मुख्य गोल बाजार हो या फिर शहर के संतोषी नगर, टिकरापारा, गुढ़ियारी, कटोरा तालाब समेत लगभग सभी बाजार सज चुकी हैं। होली की पिचकारियों के साथ ही रंग-गुलाल व गुब्बारे देखे जा सकते हैं। खास बात यह है कि संस्थानों में देशी पिचकारियां ही दिखाई देगी। कारोबारियों का कहना है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष ज्यादा कारोबार की उम्मीद है। कैट द्वारा पिछले कई वर्षों से देसी उत्पादों का प्रयोग और चाइना उत्पादों का बहिष्कार को लेकर अभियान भी चलाया जा रहा है। होली बाजार में बच्चों के लिए विशेष रूप से कार्टून पिचकारियों के साथ ही टैंक व मशीन गन वाली पिचकारियां है। इसके साथ बच्चों द्वारा पीछे बैग के रूप में लटकाई जाने वाली पिचकारियां मौजूद है। कारोबारियों के अनुसार लोगों के बजट के अनुसार 50 रुपये से लेकर 800 रुपये तक की पिचकारियां उपलब्ध है। पिचकारियों के साथ ही होली बाजार में हर्बल गुलाल व रंग भी आ गए है, जो विभिन्न ब्रांड में उपलब्ध है।

No comments