Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

अब्दुल मलिक-बेटे मोईद पर लगेगा सख्त कानून, हल्द्वानी हिंसा में 35 आरोपियों पर ऐक्शन

हल्द्वानी। हल्द्वानी के वनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद उस पर यूएपीए के तहत कार्रवाई क...

हल्द्वानी। हल्द्वानी के वनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद उस पर यूएपीए के तहत कार्रवाई की है। अब पुलिस उसके बेटे वांटेड अब्दुल मोईद और संबंधित मुकदमे में नामजद एवं गिरफ्तार किए जा चुके 35 अन्य आरोपियों पर भी गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम यानि यूएपीए के तहत कार्रवाई करने जा रही है।

बीती आठ फरवरी को हुई हिंसा के बाद थाना वनभूलपुरा में तीन अलग-अलग मुकदमे दर्ज कराए गए थे। पहला मुकदमा क्षेत्र में दंगा भड़काने, आगजनी करने, सरकारी व सार्वजनिक संपत्ति को क्षतिग्रस्त करने, हत्या का प्रयास करने सहित अन्य आरोपों सहित धारा 147,148, 149, 307, 395, 323, 332, 341, 342, 353, 427 और 436 के तहत दर्ज किया गया।

इसमें अब्दुल मलिक और उसके बेटे वांटेड अब्दुल मोईद सहित 16 लोगों को नामजद किया गया था। इनमें से पुलिस अब्दुल मलिक पर पहले ही यूएपीए के तहत कार्रवाई कर चुकी है। वहीं, अब नैनीताल पुलिस अब्दुल मोईद सहित 35 अन्य आरोपियों पर भी यूएपीए के तहत कार्रवाई करने जा रही है। इसमें जावेद सिद्दीकी सहित कई अन्य प्रमुख नाम भी शामिल हैं। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ सबूत जुटाना शुरू कर दिया है।

इनके खिलाफ होगी कार्रवाई

अब्दुल मोईद, अरशद अय्यूब, महबूब आलम, जीशान परवेज, जावेद सिद्दीकी, असलम चौधरी, जुनैद, निजाम, महबूब उर्फ माकू, शहजाद उर्फ कनफड़ा उर्फ ठेकेदार, शहनवाज, अब्दुल माजिद, साजिद, मोहम्मद नईम, शकील अहमद, इसरार अली, शानू उर्फ राजा, रहीस उर्फ बिट्टू, अबू तसलीम, भोला उर्फ सोहेल, सोहेब, सलीम पाशा, शकील अहमद अंसारी, जिया उर्ररहमान, मोकिन अहमद सैफी, शारिक सिद्दीकी, दानिश मलिक, मोहम्मद शुएब, वसीम सिद्दीकी, तस्लीम कुरैशी, मोहम्मद अनस, मोहम्मद समीर उर्फ चांद, जावेद कुरैशी, अयाज अहमद और रहीस अहमद।

वनभूलपुरा थाना पुलिस की ओर से दर्ज कराए गए मुकदमे में जितने भी लोग नामजद हैं और अभी तक जितने भी गिरफ्तार हो चुके हैं, उन सभी के खिलाफ यूएपीए के तहत कार्रवाई की जाएगी। यूएपीए के तहत कार्रवाई के लिए कई साक्ष्य पुलिस के हाथ लगे हैं। पुलिस टीमें मजबूत तथ्य जुटाने में लगी हैं।

No comments