Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

पशुक्रूरता के अपराध पर भेजा गया जेल

  रायगढ़। जिले के शहर के सड़को व गांव में घुमंतू मवेशियों को रात के अंधेरे में हांकते हुए लैलूंगा के रास्ते झारखंड के बूचड़खाने ले जाने का खे...

 

रायगढ़। जिले के शहर के सड़को व गांव में घुमंतू मवेशियों को रात के अंधेरे में हांकते हुए लैलूंगा के रास्ते झारखंड के बूचड़खाने ले जाने का खेल लंबे समय से चला रहा है। कुछ तस्कर पुलिस के हत्थे गाहे बगाहे चढ़ रहे है,शेष शातिराना तरीके से जंगल के भीतरी शार्ट कट मार्ग को अपनाते हुए पुलिस को चकमा देकर तस्करी कर रहे है। ऐसा ही एक प्रकरण में घरघोड़ा पुलिस ने रात में तस्करी कर मवेशियों को बूचड़खाने ले जाने के दौरान धर दबोचा है। जिनके कब्जे से 78 मवेशियों को भी जब्त किया गया है। जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी घरघोड़ा निरीक्षक शरद चंद्रा के नेतृत्व में घरघोड़ा पुलिस द्वारा तमनार रोड़ पर नाकेबंदी कर दो पशु तस्करों को पकड़ा गया है । टीआई शरद चंद्रा को मुखबिर से सूचना मिली थी कि पशु तस्कर भारी संख्या में कृषिधन मवेशियों को मारते-पीटते, बेरहमी पूर्वक हांकते हुए झारखंड़ की ओर लेकर जा रहे है। घरघोड़ा पुलिस की नाकेबंदी में पकड़े गये आरोपित ने अपना नाम फुलचंद उरांव पिता चमरा उरांव उम्र 48 वर्ष ,लोली खडिया पिता कन्दराराम खडिया उम्र 40 वर्ष दोनों निवासी करवारजोर थाना लैलुंगा का होना बताये जिनके पास से 78 नग कृषिधन मवेशी कीमत करीब 2 लाख रूपये का जप्त किया गया है। जिसे आरोपियों द्वारा झारखंड के हांडीपानी सिंकाजोर के बूचड़खाने ले जाना बताया गया । आरोपितों के कृत्य पर थाना घरघोड़ा में छ.ग. कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 की धारा 4, 6, 11 के तहत कार्यवाही कर आरोपितो को न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है । जप्त मवेशियों के दाना पानी की व्यवस्था हेतु अस्थायी रूप से स्कूल कंपाउंड में रखवाया गया है।

No comments