Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

प्रदेश में जन-कल्याणकारी योजनाओं से एकात्म मानववाद और अंत्योदय के विचारों का क्रियान्वयन - मुख्यमंत्री श्री चौहान

    भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय द्वारा दिए गए एकात्म मानववाद और अंत्योदय के सिद्धांतों को...

 

 भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय द्वारा दिए गए एकात्म मानववाद और अंत्योदय के सिद्धांतों को व्यवहारिक रूप देने के उद्देश्य से ही प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जन-कल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन जारी है। सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास की प्रेरणा के साथ रोटी, कपड़ा, मकान, रोजगार और पढ़ाई के इंतजाम के लिए केन्द्र और राज्य सरकार निरंतर सक्रिय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्य-तिथि पर लाल घाटी स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। सांसद श्री वी.डी. शर्मा, पूर्व विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता श्री भगवानदास सबनानी, श्री राहुल कोठारी तथा अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पंडित उपाध्याय ने कहा था- जगत में एक ही चेतना है। इसीलिए वसुधैव कुटुम्बकम् का भाव रखते हुए उन्होंने सबकी प्रगति और विकास के लिए एकात्म मानव दर्शन का प्रतिपादन किया। इस दर्शन के आधार पर ही एक पृथ्वी-एक परिवार-एक भविष्य की थीम पर जी-20 देशों का सम्मेलन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हो रहा है। भारत पूरे विश्व को मार्ग दिखाएगा। भारत ही भौतिकता की अग्नि में दग्ध विश्व को शांति के दिग्दर्शन करवाएगा। हाल ही में तुर्की में आए महाविनाशक भूकम्प में राहत के लिए सबसे पहले भारत की सेना पहुँची। यह पंडित उपाध्याय के सबको एक मानने के विचारों के क्रियान्वयन का ही प्रतीक है।

No comments