Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

ग्राम सुर्रा में चल रही लकड़ी की अवैध कटाई

  अफसर नहीं दे रहे ध्यान गुरुर। ब्लाक के ग्राम सुर्रा में इन दिनों लकड़ी की अवैध कटाई जोरों पर चल रही है। हरियाली पर बेदम कुल्हाड़ी मारी जा ...

 अफसर नहीं दे रहे ध्यान
गुरुर। ब्लाक के ग्राम सुर्रा में इन दिनों लकड़ी की अवैध कटाई जोरों पर चल रही है। हरियाली पर बेदम कुल्हाड़ी मारी जा रही है। क्षेत्र में खासतौर से मिलने वाले कहुआ व अन्य इमारती लकडिय़ों को लकड़ी तस्कर निशाना बना रहे हैं। भोले-भाले किसानों को बहला कर खेतों की लकडिय़ों को औने पौने दाम में खरीदकर कटवा रहे हैं। विगत लगभग 2 सप्ताह से यहां 24 घंटे लकड़ी की कटाई जारी है। जिससे खेतों में हरियाली नष्ट हो रही है। किसानों को चंद पैसों का लालच देकर बाहर के लकड़ी तस्कर यहां पर आ रहे हैं। टॉल के अलावा बाहर तक यहां की लकडिय़ों की खेप सप्लाई हो रही है जो जांच का विषय है। बिना किसी अनुमति के बदस्तूर ठेकेदारों द्वारा कटाई करवाई जा रही है। इस परिस्थिति को देखकर जन आक्रोश पनपने लगा है। मामले की जानकारी वन विभाग और राजस्व विभाग के अफसरों को दी गई है। लेकिन अब तक किसी के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। जिसके चलते लकड़ी तस्कर द्वारा खुलेआम लकड़ी का परिवहन किया जा रहा है। ईमारती लकड़ी कटवाने के लिए विशेष अनुमति की जरूरत पड़ती है। वन विभाग व राजस्व विभाग को भी निगरानी करनी पड़ती है, लेकिन यहां कुछ नहीं हो रहा है। जो भी आ रहे हैं लकड़ी काटकर जा रहे हैं। दिन हो या रात लकड़ी की तस्करी यहां थम नहीं रही है। नतीजा माफिया नियम को ठेंगा दिखाते हुए अपने मंसूबों में कामयाब हो रहे हैं।
कार्रवाई ना होने से ग्रामीण नाराज
संबंधित विभाग के अफसरों और कर्मचारियों द्वारा इस मामले में कार्यवाही ना होने से ग्रामीण नाराज हैं। ग्रामीणों का कहना है कि वह दूर दिन दूर नहीं जब खेतों से हरियाली गायब हो जाएगी। खेत के मेड़ पर बड़े बुजुर्गों द्वारा वर्षों से लगाए गए पेड़ जो आज लोगों को छाया देते हैं लेकिन कुछ किसान ऐसे हैं जो चंद पैसों में आकर औने पौने दाम में उन पेड़ों को बेच देते हैं जिन्हें फिर लकड़ी तस्कर अपने हिसाब से आरा मशीनों से कटवा कर दिन हो या रात गाडिय़ों में परिवहन कर उन्हें ठिकाने लगा रहे हैं।
मामले की जानकारी आई थी: रेंजर
रेंजर श्री साहू ने कहा कि मामले की जानकारी ग्रामीणों से मिली थी। हमने कहा कि वह क्षेत्र मैदानी इलाका है। वन विभाग के क्षेत्र में भी नहीं आता है। अवैध तरीके से कटाई हो रही है और तो नियम अनुसार की जाएगी। ग्रामीणों से हमने कहा है कि लकड़ी कटाई व परिवहन की अनुमति है या नहीं पहले पता कर लीजिए।
एसडीएम ने कहा जांच करवा लेते हैं
वहीं मामले में एसडीएम रश्मि वर्मा ने कहा कि आप के माध्यम से इसकी जानकारी मिल रही है। मुझे अब तक जानकारी नहीं मिली थी। मामले की जांच करवा लेती हूं। सच्चाई क्या है पता चल जाएगी। अगर अवैध कटाई हो रही है तो कार्रवाई होगी।


No comments