Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

घर में प्रसव के 10 दिन बाद बच्चे की मौत

उपस्वास्थ्य केंद्रों के चार कर्मचारी मैदानी क्षेत्र के अस्पतालों में अटैच, स्वास्थ्य सेवाएं बिगड़ी कुकदूर। ग्राम माठपुर के मंगलू पारा में घर...

उपस्वास्थ्य केंद्रों के चार कर्मचारी मैदानी क्षेत्र के
अस्पतालों में अटैच, स्वास्थ्य सेवाएं बिगड़ी
कुकदूर। ग्राम माठपुर के मंगलू पारा में घर में प्रसव के 10 दिन बाद गुरुवार को बच्चे की मौत हो गई। बीते दो महीने में यह दूसरा केस है, जब घरों में प्रसव से शिशु की मौत हुई है। इस अव्यवस्था के लिए स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी बताई जा रही है। क्योंकि कुकदूर सेक्टर अंतर्गत उपस्वास्थ्य केंद्रों में 4 से अधिक कर्मचारियों को मैदानी क्षेत्र के अस्पतालों में अटैच कर दिया है। अटैचमेंट के चलते यहां स्वास्थ्य सेवाएं बिगड़ गई है। गर्भवतियों का नियमित हेल्थ चेकअप, संस्थागत प्रसव व नवजात बच्चों को टीके तक नहीं लग पा रहे हैं। स्थिति इतनी खराब है कि अब मौतें भी होने लगी हंै। माठपुर के मंगलू पारा में 10 जनवरी को राधिका पति रिंकू बघेल को प्रसव पीड़ा शुरू हुई। नजदीकी हेल्थ वैलनेस सेंटर कामठी में पदस्थ एएनएम को पंडरिया व कुकदूर अस्पताल में अटैचमेंट कर दिया गया। ऐसे में पीड़ा से तड़प रही महिला का घर में ही प्रसव करा दिया गया। महिला ने बच्चे को जन्म तो दिया, लेकिन तबीयत बिगडऩे से महज 10 दिन के भीतर ही उसकी गोद सूनी हो गई।

No comments